Tuesday, April 01, 2008

औरकुट अकाउंट हैकींग

मेरी नजर में इंटरनेट पर जो सबसे आसान काम है वो है हैकींग करना और उसमें भी औरकुट अकाउंट की तो बात ही निराली है.. चारों तरफ आपको उसमें सुरक्षा छिद्र दिख जायेंगे.. मेरे आज के इस लेख का ये मकसद नहीं है की आपको मैं औरकुट अकाउंट हैकींग सिखाऊं.. बल्कि लोगों में अपने अकाउंट बचाव को लेकर जागरुकता फैलाना ही एकमात्र कारण है..

पहले मैं और्कुट किसी नशे की तरह करता था(जैसे आजकल ब्लौगिंग कर रहा हूं :)) और उस समय और्कुट के लगभग सारे सुरक्षा छिद्रों के बारे में जान गया था.. कुछ अपने ही फेक अकाऊंट बना कर मैं उसे ट्रायल तौर पर हैक भी किया था.. अभी लगभग 1 साल बाद फिर से मैं और्कुट पर फिर से सक्रिय हुआ तो पाया की इसमें पहले वाले बहुत से सुरक्षा छिद्र भर चुके हैं और उनके जगह पर नये छिद्र दिख रहे हैं.. ये भी पाया की कुछ लोग मेरा अकाऊंट हैक करने की जीतोड़ कोशिश में लगे हुये हैं.. वे सभी मेरे मित्रों में से ही थे सो मैंने उन्हें चेतावनी देकर छोड़ दिया.. साधारनतया और्कुट पर जो भी हैकींग की शिकायते आती हैं वो तुरत वापस भी ले लिया जाता है क्योंकि शिकायतकर्ता पाते हैं कि उनके अपने ही मित्र बस मस्ती-मजाक के लिये उसे हैक किये होते हैं.. वैसा कुछ मेरे साथ भी हो रहा था..

बहुत दिनों के बाद मैं जब अपने और्कुट के कूकीज से छेड़-छाड़ कर रहा था तो पाया की कुछ खास आई पी से उसमें छेड़-छाड़ हुआ है और उसी आई पी को ट्रेस करने पर मैंने उन लोगों का पता लगाया.. वैसे मैं वो ट्रिक तो नहीं बताने वाला हूं क्योंकि अगर आपको वो बता दिया तो थोड़ी सी मेहनत और करके आप कोई भी अकाउंट हैक कर सकते हैं, जो कानून के विपरीत होगा..

हां मगर आपको मैं कुछ साधारन से उपाय जरूर बताना चाहूंगा जिससे आपके अकाउंट को भी कोई जल्दी हैक ना कर पाये..

1. आप अपना पासवर्ड थोड़ा कठीन सा रखें.. जैसे 'a' के जगह पर '@' और 's' के जगह पर '$' लिखें..

2. अपने पासवर्ड की लंबाई कम-से-कम 8 अक्षरों का तो रखें ही..

3. अपने इंटरनेट कूकी को हर दिन एक बार तो डिलीट करें ही..

4. किसी भी अपरिचित लिंक पर क्लिक ना करें, ये आपके कूकी को Access कर सकता है या वायरस भेज सकता है..

मैं एक साफ्टवेयर विशेषज्ञ होने के नाते बस एक ही बात जानता हूं की आप किसी से चैट करते हैं या मेल करते हैं और ये सोचते हैं की ये आपकी समाग्री बिलकुल सुरक्षित है तो आपका सोचना बिलकुल गलत है.. अभी कुछ दिन पहले की बात है, मैं अनिता जी से चैट कर रहा था.. बात चलते-चलते कुछ व्यक्तिगत बाते होने लगी, जो मुझे उन्हें बताने में तो कोई आपत्ती तो नहीं थी मगर मैं ये बाते नेट पर नहीं कर सकता हूं.. क्योंकि मुझे पता है की ये सुरक्षित नहीं है.. शायद उन्हें कुछ अच्छा भी ना लगा हो की मैंने अचानक से चुप क्यों हो गया था..


अभी कल ही अल्पना जी ने मेरे ब्लौग पर एक कमेंट में पूछा था की कोई ऐसी तकनीक बतायें जिससे कोई नेट पर से फोटो कापी ना कर सके.. उनके लिये भी मैं यही कहूंगा की नेट पर कुछ भी सुरक्षित नहीं है.. अगर कोई कापी ना कर सका तो प्रिंट स्क्रीन लेकर ही उसे सेव कर सकता है..
मेरे इस पोस्ट से संबंधित पुराना पोस्ट पढना ना भूलें..

11 comments:

अनूप शुक्ल said...

बड़ी धांसू जानकारी है।

Anonymous said...

बहुत सही है दोस्त.. मजा आ गया..

anitakumar said...

नहीं दोस्त हमें बिल्कुल खराब नहीं लगा, आप के अपने व्यक्तिगत जीवन के बारे में कुछ भी न बताने के निर्णय आप का है

Vishal Chopra said...

मुझे तो यह सब पहले से ही पता था
रही इंटरनेट की बात - हाँ यह सही है की इंटरनेट पर कुछ भी - बोले तो कुछ भी सुरक्षित नहीं है
आज ही टाइम्स ऑफ इंडिया में पढ़ रहा था की एक लोगों की ई मैल पासवर्ड , बैंक अकाउंट का पासवर्ड भी हज़ारों में बिक रहे हैं
एक और बात इन सोशियल नेटवर्किंग की वेबसाइट्स ने तो हॅकिंग एक खेल ही बना दिया है.......

Anonymous said...

करेक्षन की जाए - सिर्फ़ खेल ही नहीं - बच्चों का खेल ;)

अल्पना वर्मा said...

accha lekh hai.
lekin kuch to bacha ja sakta hai nah-jaise pics ko itne kam pixels par kar do ki copy karne wale ke kisi kaam ka na rahe--
aur ek baat aur kayee log yah samjhte hain ki webcam koi record nahin kar sakta to I will add here tht just with print screen command one can record your webcam pics...
aur waise to sach kahen kahin kuchh safe nahin hai--kisi ko kisi ki tasweer leni ho ====then now a days mobiles have such a good camera[forget abt cameras]-we will not even know who is clicking our pics and where?---hai nah technology ke dukhdayee laabh!!!!

-ek baat aur aap se puchch na chahungi--if any server keep changins it IPs then also one can get hacked?????
and i have a great concern about computer advance setting has enabled remote control --shall i disable or is it necessary to access internet services???

lovely kumari said...

prashan jee,achchha lga aapne dubara suruaat ki waise bhi hindi smaj keo technology ki shahyta ki bhut jrurat hai.ab ek swal agr mail krne wale ka IP pta ho(jo pta krna bhut aashan hai) to uski location kaise find kren.bina service provider ko application diye? agr koi trika ho to btayen

Lovely

कुश एक खूबसूरत ख्याल said...

इंटरनेट की दुनिया है जी यहा सब कुछ संभव है..

Ajay Pathak said...

bahut hi ache tips hai orkut ke liye
agar aap ke pass thoda sa samay ho to kripya mere blog ko dekh liyega
http://readerszone.com

प्रकाश बादल said...

भाई जान आपने तो मुझे बहुत ख़ुश कर दिया। दरअसल मैं एक कंप्युटर की प्रोग्रामिंग सीखने का बड़ा शौक रखता हूं और यहां शिमला में इस तरह के न तो कोई संस्थान है और न ही प्रोफैशनल लोग लेकिन मुझे लगता है कि आप से मैं बहुत कुछ सीख सकता हूं पुझे लैंगुअएजिज़ सीखने का बहुत ही शौक है क्या आप मुझे सिखा सकेंगे। लेकिन मैं आपको बता दूं मैने पहले कुछ नहीं सीखा है मगर अगर आप सिखा देंगे तो मैं कुछ भी सीख सकता हू। आशा है आप मेरे शौक के मद्देनज़र मुझे सिखाएंगे।

Gaurav said...

Wakai me achi, aur print screen wali bat to bilkul sahi!!! Bat. Nice posting